शिक्षक विकास

राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति -2019 का प्रारूप आया है। राज्‍यसभा टीवी ने इसकी मुख्‍य बातों को आधार बनाकर एक कार्यक्रम तैयार किया है। इसमें शिक्षा नीति बनाने वाली समिति एक सदस्‍य भी इसकी खासियत बता रहे हैं।

नई सरकार ने राष्‍ट्रीय शिक्षा नीति -2019 का प्रारूप जारी कर दिया है। उसकी पीडीएफ यहाँ उपलब्‍ध है।

बच्चे स्वभाव से चंचल ही होते हैं। यह उनका नैसर्गिक गुण है। चंचलता के बिना बचपन भी क्या बचपन रह जाता है। सबको बच्‍चों की चंचलता लुभाती भी है और वे भी सभी का ध्यान अपनी ओर आकर्षित कर ही लेते हैं। परन्तु उनकी यही चंचलता एक शिक्षक के लिए परेशानी का सबब बन जाती है और उसके लिए सिखाने में बाधा भी। क्यूँकि इसी चंचलता के कारण बच्चे कक्षा में ध्यान स्थिर नहीं कर पाते और शिक्षक कई बार उनके ध्यान को स्थिर करने के लिए भय

 

पुस्तक : शिक्षा के सवाल

लेखक: महेश पुनेठा

रायपुर, छत्‍तीसगढ़ में अज़ीम प्रेमजी फाउण्‍डेशन एवं पंडित रविशंकर शुक्‍ल विश्‍वविद्यालय द्वारा संयुक्‍त रूप से आयोजित कार्यक्रम में हिन्‍दी के प्राध्‍यापक पुरुषोत्‍तम अग्रवाल ने 'आधुनिक भारत-एक विचार' पर व्‍याख्‍यान दिया। उसे यहाँ सुना जा सकता है।

बात कुछ पुरानी है। कुछ दिनों से कक्षा में रोजाना 7-8 बच्चे अनुपस्थित रह रहे थे। ऐसा कभी-कभी ही होता था जब कक्षा में इतनी कम उपस्थिति रहती हो। मैंने बच्चों से जब इसका कारण पूछा तो उन्होंने बताया कि आजकल शादियों का सीजन चल रहा है, शायद बच्चे शादियों में गए होंगे। एक बच्चा पिछले तीन दिनों से अनुपस्थित था तो मैंने उसके बारे में पूछा कि ये इतने दिनों से स्कूल क्यों नहीं आ रहा है ? एक बच्चा बोला कि उसके बड़े भाई की शादी है आज। मैंने अनुपस्थित बच्चे के Best Friend से मजाक के लहजे में कहा कि, “आज तो माल-मिठाइयों में हाथ रहेगा तेरा।”

अज़ीम प्रेमजी विश्‍व‍विद्यालय की शै‍क्षणिक पत्रिका 'पाठशाला भीतर और बाहर' अंक 2 फरवरी, 2019 में

 

विमर्श

फ़ेल न करने की नीति की समाप्ति : बयानबाज़ी बनाम वास्‍तविकता * दिव्‍या दुबे व मधु कुशवाहा

अंग्रेजी का ‘अलौकिक साम्राज्‍य’  * अभय कुमार दुबे

रामेश्वरी लिंगवाल

एन.सी.ई.आर.टी. की कक्षा 3 की ईवीएस की किताब इस बार द्वारा अँग्रेजी में पढ़ाने हेतु शुरू की गई है। इस किताब को पढ़ाना मेरे लिए किसी चुनौती से कम नहीं था। वह इसलिए क्योंकि हमारे विद्यालय की कक्षा 3 में 6 बालक व 8 बालिकाएँ हैं। जिनमें से कईयों को अभी हिन्दी भी ठीक से पढ़ना नहीं आता। तो उन्हें अँग्रेजी माध्यम में पढ़ाना मुश्किल भरा काम है।

शून्‍य एक सम संख्‍या है, या विषम संख्‍या ?
आईये साथ मिलकर जानने की कोशिश करें, इस वीडियो के माध्‍यम से

शून्‍य एक सम संख्‍या है, या विषम संख्‍या ?
आईये साथ मिलकर जानने की कोशिश करें, इस वीडियो के माध्‍यम से

पृष्ठ

18802 registered users
7333 resources