मैना कुमारी खटीक

मैना कुमारी कहती हैं, 'मेरा सिद्वान्त है कि बच्चों को उनके स्तर के अनुसार शिक्षा दी जानी चाहिए। शिक्षण कार्य को रुचिकर बनाने के लिए खेल व अन्य गतिविधियों का भी सहारा लिया जाना चाहिए। बच्चों की अधिक से अधिक सहभागिता प्राप्‍त करनी चाहिए। शिक्षण कार्य में बच्चा जितना सक्रिय रहता है, वह उतना ही अधिक सीख रहा है। शिक्षण बाल केन्द्रित होना चाहिए।'

हिन्दी
18927 registered users
7393 resources