विचार और अनुभव

 गुरु गोविन्द दोऊ खड़े, काके लागूं पाय,

बलिहारी गुरु आपने, गोविन्द दियो बताये।।।

रेखा चमोली की हाल ही में प्रकाशित पुस्तक 'मेरी स्कूल डायरी'  देखी। पहली नजर में पुस्तक ने अपनी साज-सज्जा तथा मुद्रण की गुणवत्ता से प्रभावित किया। डायरी में वर्ष 2011 से 2014 के रेखा चमोली के अध्यापकीय अनुभव संग्रहित हैं।

डॉ.विनोद रायना शिक्षा में अपने योगदान के अलावा इस बात के लिए भी जाने जाते हैं कि उन्‍होंने 'शिक्षा का अधिकार अधिनियम' को पारित करवाने के लिए एक लम्‍बी लड़ाई लड़ी। उसी अधिनियम के बारे में कुछ सवालों के जवाब वे इस वीडियो में दे रहे हैं। विनोद रायना अब इस दुनिया में नहीं हैं। लेकिन शिक्षा एवँ सामाजिक क्षेत्र में उनके उल्‍लेखनीय योगदान को हम हमेशा याद रखेंगे।

अज़ीम प्रेमजी विश्‍वविद्यालय अँग्रेजी में तीन पत्रिकाएँ प्रकाशित करता है। अब शिक्षा के लिए हिन्‍दी में भी एक पत्रिका ‘पाठशाला - भीतर और बाहर’ का प्रकाशन भी आरम्‍भ किया है। पत्रिका का प्रवेशांक आ गया है। इसमें विमर्श,परिप्रेक्ष्‍य,शिक्षण शास्‍त्र, कक्षा अनुभव,साक्षात्‍कार,पुस्‍तक चर्चा,शोध अध्‍ययन तथा संवाद स्‍तम्‍भों के अन्‍तर्गत उपयोगी शैक्षिक सामग्री है। पत्रिका की प्रति के लिए पत्रिका में दिए गए पते पर सम्‍पर्क करें। यहाँ पत्रिका की पीडीएफ डाउनलोड कर सकते हैं।

 

लर्निंग कर्व हिन्‍दी अंक 14 : जून, 2018 * इस अंक में

खण्‍ड क : परिप्रेक्ष्‍य

शिक्षक-शिक्षा और प्रबन्‍धन : नीति, व्‍यवहार और विकल्‍प * बी.एस. ऋषिकेश

अच्‍छे शिक्षक और ज्ञानार्जन * कृष्‍ण हरेश

इंसानियत और समाज के लिए ख़ास काम करने वाली जिन छह शख़्सियतों को इस बार प्रतिष्ठित रैमन मैगसेसे अवार्ड मिला है उनमें से दो भारत से हैं। ये हैं डॉक्टर भरत वातवानी और सोनम वांगचुक। पेशे से इंजीनियर सोनम वांगचुक ने अपनी नायाब सोच और साहस से हिमालय पार लद्दाख के लोगों की मुश्किलों को कम करने में बड़ी भूमिका निभाई है। आर्टिफिशियल ग्लेशियर का उनका प्रयोग आइस स्तूप दुनिया भर में सराहा गया। लद्दाख जैसे इलाके में अप्रैल और मई के महीने में फसलों के लिए पानी की कमी को दूर करने में उनका ये योगदान एक मील का पत्थर साबित होने जा रहा है। सोनम वांगचुक ने लद्दाख के दूर दराज के बच्चो

हिन्दी

उदयन वाजपेयी

पृष्ठ

15519 registered users
6354 resources