विचार और अनुभव

हिन्दी

प्रश्न : कृपया हमें अपनी शैक्षिक/बौद्धिक यात्रा के बारे में बताएँ। आज आप अपने आप को एक शिक्षाशास्त्री - यानी शिक्षाशास्त्र के एक प्राध्यापक जो शिक्षकों और शोधकर्ताओं की एक नई पीढ़ी को विकसित कर रहा है - के रूप में किस प्रकार देखते हैं?

गिजु भाई बधेका भारत के प्रथम प्रयोगशील शिक्षक कहे जाते हैं। उनका जन्‍म 15 नवम्‍बर 1885 में हुआ था। उनकी कर्मभूमि गुजरात के भावनगर के करीब रही है। 1939 में जून में उनका निधन हो गया था।

बच्‍चों के साथ विद्यालय में उन्‍हाेंने जो काम किया, वह उनके द्वारा लिखी गई कई सारी किताबों के रूप में सामने अाया है। उनकी सबसे प्रसिद्ध किताब है 'दिवास्‍वप्‍न' । इस किताब में एक प्रयोगशील शिक्षक समाज और व्‍यवस्‍था से किस तरह संघर्ष करता है, उसका विवरण दर्ज है।

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू स्‍वतंत्रता आंदोलन के दौरान जेल में भी रहे। उन्‍हाेंने जेल में बिताए समय का उपयोग किताबें लिखकर किया। जेल में लिखी गई उनकी किताब  'भारत -एक खोज' (डिस्‍कवरी ऑफ इंडिया) बहुत चर्चित हुई है। इस किताब पर आधारित टीवी सीरियल बना, वह भी बहुत चर्चित हुआ। हम सब मौके-बेमौके भारत माता का जयकारा लगाते हैं। लेकिन उसका अर्थ क्‍या है? कौन है भारत माता ?

भारत एक खोज का यह पहला एपीसोड इसका एक सरल और सहज जवाब देता है।

एक छोटी सी कहानी जो बताती है कि लड़कियाँ क्‍या-क्‍या कर सकती हैं।

शिक्षक के बतौर हम सभी इस बात को जानते हैं कि बच्चों को पढ़ने के लिए प्रेरित करना काफी महत्वपूर्ण है। यह न केवल उनकी पढ़ाई के लिए आवश्यक है बल्कि यह एक ऐसी दक्षता है जो ताउम्र उनके काम आएगी। हम जानते हैं कि -

विद्यालय में हर वर्ग, हर संप्रदाय या हर समुदाय के विद्यार्थियों को बिना किसी भेदभाव के प्रवेश मिलना चाहिए। यह उनका मौलिक अधिकार है। लेकिन इस अधिकार का पालन हो इसकी जिम्‍मेदारी निश्चित ही स्‍कूल नेतृत्‍व की बनती है। यह वीडियो इसी बात को रेखांकित करता है।

भाषा संवर्धन में बालसाहित्य का बेहद महत्व है। अच्छे बालसाहित्य का अध्ययन बच्चों को साहित्य से संवाद करने के अवसर प्रदान करता है और पढ़ी जा रही कहानी, कविता आदि पर अपनी राय बनाने के अवसर देता है। इससे बच्चों के भाषिक और संज्ञानात्मक कौशल का विकास होता है, साथ ही बालसाहित्य बच्चों की भावनात्मक बुद्धिमत्ता के विकास के भी अवसर प्रदान करता है।

यह समीक्षा प्रपत्र विज्ञान पाठ्यपुस्तक के किसी पाठ का समीक्षात्मक सार लिखने के लिए प्रयोग किया जा सकता है। समीक्षा प्रक्रिया को आसान करने के उद्देश्य से प्रपत्र में कुल पच्चीस संकेतक रखे गए हैं । ये संकेतक क्या से शुरू होने वाले सवालों के रूप में है। उत्तर हाँ या ना में लिखना होगा। साथ ही साथ, दिये गए उत्तर के पक्ष में प्रमाण या तर्क भी रखना होगा ।

पृष्ठ

13913 registered users
5837 resources